प्रदेश भाजपा को 65 सीटों का लक्ष्य अमित शाह का अहंकार : पी.एल.पुनिया

रायपुर। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रदेश की 90 में से 65 सीटों में जीत का लक्ष्य रखा है। यह उनका अहंकार है। पहले शाह बताएं कि बाकि कौन सी 25 सीटें वे छोड़ रहे हैं, बड़बोलापन उचित नहीं है। यह कहना था छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया का। बीके हरिप्रसाद को हटाकर प्रदेश प्रभारी बनाए गए पुनिया ने गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस भवन में पहली पत्रकार वार्ता ली। कुछ सवालों का जवाब देने से वे बचते रहे। पत्रकार वार्ता में उनके साथ प्रभारी सचिव कमलेश्वर पटेल और अरूण उरांव भी मौजूद थे।
पीएल पुनिया ने कहा कि अब 2018 छत्तीसगढ़ विधानसभा और 2019 लोकसभा चुनाव की तैयारी करनी है। आने वाले ये डेढ़ साल महत्वपूर्ण हैं। अनेक विषम परिस्थितियों के बावजूद छत्तीसगढ़ में कांग्रेस मजबूत है और हम किसी के साथ गठबंधन नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि विगत विधानसभा चुनाव में हम मात्र 0.7 प्रतिशत के अंतर पर थे, नतीजों के दौरान हमें अपनी जीत पक्की लग रही थी, लेकिन हम नहीं जीत पाए। उन्होंने कहा प्रदेश कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने संकल्प लिया है कि अब दिन रात एक कर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनाएंगे। आज कांग्रेस को-ऑर्डिनेशन समिति की बैठक हुई। प्रभारी बनने के बाद प्रदेश कांग्रेस के सभी मोर्चा और प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों से मुलाकात कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी अपनी परंपरा के अनुसार सभी वर्गों को साथ लेकर चलेगी। विधानसभा चुनाव में पार्टी के चेहरे की बात पर उन्होंने कहा कि पार्टी प्रदेश अध्यक्ष और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी। विधायकों की सहमति से मुख्यमंत्री का चुनाव होगा। पूर्व प्रदेश प्रभारी बीके हरिप्रसाद को पद से हटाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हरिप्रसाद के नेतृत्व में पार्टी ने अच्छा काम किया है और समय परिवर्तन होने पर वे यहां से गए हैं। पार्टी छोड़कर जा रहे नेताओं की वापसी पर उन्होंने कहा कि जो चला गया वो चला गया, पार्टी के प्रति निष्ठा है वो हर परिस्थिति में पार्टी के साथ है। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, विस नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, सांसद ताम्रध्वज साहू, सहित वरिष्ठ कांग्रेसी शामिल थे।

error: Content is protected !!