Thursday, January 23, 2020
Home > featured > महिला कि हत्या के 4 आरोपी गिरफ्तार, आरोपियों से चोरी के सामान भी बरामद

महिला कि हत्या के 4 आरोपी गिरफ्तार, आरोपियों से चोरी के सामान भी बरामद

रायपुर। रायपुर के खरोरा थाना पुलिस ने आज महिला की हत्या मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर चोरी के सामान भी जब्त किया है। खरोरा थाना क्षेत्र के ग्राम पिकरीडीह में मृतिका सुशील दुबे की हत्या हुई थी। आरोपियों ने मृतिका की हत्या करने के बाद उसके घर से सोने के जेवरात की चोरी भी की थी। पुलिस ने आरोपियों से कंगना, एक नग सोने का मंगलसूत्र, एक नग सोने का लॉकेट, सोने का कान का टाप्स, दो नग सोने की अंगूठी एवं नगदी 4580रू. एवं घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल जुमला कीमती लगभग 7,00,000/ रू. बरामद किया है। आरोपियों में एक ग्राम चंदखुरी, एक फिंगेश्वर और दो खरोरा के निवासी हैं। घटना की गंभीरता को देखते हुए उमनि एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की ओर से थाना खरोरा और सायबर सेल की एक विशेष टीम का गठन किया गया था। आरोपियों के खिलाफ थाना खरोरा में धारा 302,382,450,34 के तहत मामला पंजीबद्ध है।
पुलिस ने बताया कि नरेन्द्र दुबे ने रिपोर्ट दर्ज कराया है कि वह पिकरीडीह का निवासी है और ए-ग्रेड का ठेकेदार है। 01 जनवरी 2020 को कुमारी धीवर ने फोन कर बताया था कि वह रायपुर गई थी वापस अपने गांव लौटकर आई तो घर के पास भीड़ लगा था, अंदर जाकर देखने पर सुशील दुबे कमरे के अंदर मृत पड़ी थी, जिसके सिर पर घहरा चोट लगा था और दोनों हाथ पैर साड़ी से और मुंह गमछा से बंधा हुआ था। घर में रखे सोने चांदी के जेवरात चोरी कर लिए गए थे। जिस पर थाना खरोरा में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ एच. शेख ने मामले की जांच के लिए अतिरिक् पुलिस अधीक्षक क्राईम और आई.यू.सी.ए. डब्ल्यू. को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए, जिसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम और आई.यू.सी.ए. डब्ल्यू. की ओर से थाना खरोरा और सायबर सेल की एक विशेष टीम का गठन कर आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने टीम को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया, जिस पर टीम की ओर से घटना स्थल का निरीक्षण कर हत्या के संभावित सभी बिन्दुओं का बारिकी से अध्ययन प्रारंभ किया। घटना के संबंध में मृतिका के पति एवं उसके परिजनों से पूछताछ करने के साथ-साथ आस-पास के लोगो से भी पूछताछ किया गया एवं घटना स्थल का तकनीकी विश्लेषण करते हुए सी.सी.टी.व्ही. फूटेज एकत्रित किया गया। इसी दौरान आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम को आरोपियों के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी मिलने पर आरोपी राजेन्द्र उर्फ बधिया यादव को हिरासत में लेकर पूछताछ प्रारंभ किया गया, चूंकि आरोपी राजेन्द्र उर्फ बधिया यादव थाना खरोरा का निगरानी बदमाश भी है, इसलिए वह लगातार अपना बयान बदल रहा था, किन्तु कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि उसने अपने तीन अन्य साथी राकेश, मुकेश एवं संजू के साथ मिलकर घटना की योजना बनाई थी। राकेश एवं मुकेश मृतिका के घर में चोरी के उद्देश्य से दाखिल हुए थे और संजू बाहर रहकर निगरानी कर रहा था एवं उनके पकड़े जाने के भय से वे महिला की हत्या कर फरार हो गये। आरोपी राजेन्द्र उर्फ बधिया यादव से प्राप्त जानकारी के आधार पर आरोपी मुकेश सोनकर को टीम द्वारा छत्तीसगढ़ उड़ीसा की सीमा पर पीछा करते हुए गिरफ्तार किया गया एवं राकेश वर्मा को भाटापारा से और संजू यादव को खरोरा से गिरफ्तार किया गया। आरोपियों से मृतिका के घर से चोरी किया हुआ दो नग सोने का कंगना, एक नग सोने का मंगलसूत्र, एक नग सोने का लॉकेट, सोने का कान का टाप्स, दो नग सोने की अंगूठी एवं नगदी 4580रू. एवं घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल जुमला कीमती लगभग 7,00,000/ रू. बरामद किया गया। आरोपी में संजू यादव पूर्व में निर्दलीय लोकसभा, विधानसभा पार्षद चुनाव भी लड़ चुका है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।