Thursday, December 12, 2019
Home > featured > 2500 रू. प्रति क्विंटल धान के दाम के रास्ते में दीवार बन कर खड़े मोदी से इस्तीफा मांगे अनिल जैन : कांग्रेस

2500 रू. प्रति क्विंटल धान के दाम के रास्ते में दीवार बन कर खड़े मोदी से इस्तीफा मांगे अनिल जैन : कांग्रेस

०० अनिल जैन जी सिर्फ इतना बता दें कि क्या किसानों की आय दुगनी हो गई? 

०० हर दीवार को ढहाकर भी धान का दाम 2500 रू. देंगे भूपेश बघेल

०० मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से नहीं बल्कि किसान विरोधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस्तीफा मांगे अनिल जैन

०० मोदी जी तो भाजपा किसानों को ना दूंगा, ना किसी को देने दूंगा की नीति पर काम कर रहे है

०० भाजपा प्रदेश प्रभारी अनिल जैन के बयान पर कांग्रेस का पलटवार

रायपुर। भाजपा प्रदेश प्रभारी अनिल जैन के बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि 2500 रू. प्रति क्विंटल धान के दाम के रास्ते में दीवार बन कर खड़े मोदी से अनिल जैन इस्तीफा मांगे। भाजपा प्रभारी अनिल जैन को छत्तीसगढ़ के किसानों के हित को बाधित करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस्तीफा मांगना चाहिए। कांग्रेस की सरकार ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का तो ढाई हजार रुपए देने का संकल्प है अनिल जैन जी। अनिल जैन जी ठीक तरीके से धान खरीदी के तथ्यों की जानकारी तो ले ले। अनिल जैन जी दिल्ली में रहते हैं और उन्हें छत्तीसगढ़ के तथ्यों की सही जानकारी नहीं है। किसानों को ढाई हजार रुपए धान का दाम देने का रास्ता तो मोदी जी ने रोका है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने कहा है कि उनके अहंकार को प्रणाम है, हम किसानों को ढाई हजार रुपए दाम देंगे।

शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कृषि प्रधान देश के प्रधानमंत्री मोदी के पास देश के किसानों के लिए कोई सार्थक योजना नहीं है। मोदी भाजपा किसानों को ना दूंगा, ना किसी को देने दूंगा की नीति पर काम कर रहे है। स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश को लागू करने का वादा कर किसानों का वोट पाकर सत्ता सुख भोग रहे मोदी जी निरंतर किसानों के साथ धोखा छल फरेब कर रहें है। किसानों की आय दोगुनी करने का दम भरने वाले मोदी सरकार किसानों के सम्मान के नाम से  किसानों का अपमान निरंतर कर रहे हैं।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों के उपज का सही मूल्य दे रही है उनके धान को 2500 रू. प्रति क्विंटल के दर पर खरीद रही है ऐसे में किसान विरोधी मोदी सरकार सेंट्रल पूल में चावल लेने के नियम मे फेरबदल कर किसानों के हित में बाधा उत्पन्न करने का अन्याय पूर्ण कार्य कर रहे हैं। भाजपा नेता अनिल जैन में जरा सी भी नैतिकता है किसानों की आय दोगुनी करने की इच्छा है तो तत्काल किसान विरोधी एनडीए सरकार के मुखिया श्री नरेंद्र मोदी से इस्तीफा मांगें| त्रिवेदी ने कहा है कि अनिल जैन जी बताएं नोट बंदी लागू करते समय जो बातें मोदी जी ने कही थी उनमें से कौन सी बात पूरी हुई? क्या आतंकवाद पर रोक लगी? क्या माओवाद का फैलाव रुका? क्या काला धन समाप्त हुआ? क्या भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा? कौन सी बात पूरी की है मोदी जी ने? मोदी जी तो कहते थे कि यदि 100 दिन में मेरी बात पूरी ना हो तो जिस चौराहे पर मुझे खड़ा करेंगे मैं आ जाऊंगा। नोटबंदी हुये लंबा समय बीत गया लेकिन मोदी जी किसी चौराहे पर नहीं आए। अनिल जैन जी सिर्फ इतना बता दें कि क्या किसानों की आय दुगनी हो गई? इस एक सवाल का जवाब भारतीय जनता पार्टी और अनिल जैन के खोखले बयानों की सच्चाई को उजागर कर देना।