Sunday, September 22, 2019
Home > featured > शासकीय बालक छात्रावास, मठपुरैना में मनाया जाएगा हिन्दी दिवस

शासकीय बालक छात्रावास, मठपुरैना में मनाया जाएगा हिन्दी दिवस

०० चरामेति फाउंडेशन एवं नारायणी साहित्य अकादमी का संयुक्त आयोजन

०० समसामयिक विषयों पर बच्चे रखेंगे अपने विचार और बांटी जायेगी कापियों सहित अन्य लेखन सामग्री 

रायपुर| हिन्दी के प्रचार-प्रसार और विद्यार्थियों मे हिन्दी के प्रति विशेष सम्मान,  लगाव और जागरूकता बढ़ाने की दृष्टि से   नारायणी साहित्य अकादमी द्वारा  14 सितम्बर द्वितीय शनिवार सुबह 10 बजे से हिन्दी दिवस के परिप्रेक्ष्य में निम्नानुसार कार्यक्रम आयोजित किया गया है  जिसमे मुख्य अतिथि अमित दास, पार्षद,  मोरेश्वर राव गद्रे वार्ड , श्रीमती अर्चना चौबे, प्राचार्य,  शासकीय उच्च. माध्य. विद्यालय, मठपुरैना, अध्यक्षता संजीव ठाकुर, प्रख्यात व्यंगकार, विशेष अतिथि श्रीमती लतिका भावे, साहित्यकार शामिल होंगे| इस अवसर पर चरामेति फाउंडेशन द्वारा छात्रावास में रह रहे समस्त 100 बच्चों को कापियों के साथ पेन, पेन्सिल,  रबर,  शार्पनर एवं स्केल  का वितरण किया जाएगा   

चरामेति फाउंडेशन के राजेंद्र ओझा ने बताया कि हिन्दी के प्रचार-प्रसार और विद्यार्थियों मे हिन्दी के प्रति विशेष सम्मान,  लगाव और जागरूकता बढ़ाने की दृष्टि से   नारायणी साहित्य अकादमी द्वारा  14 सितम्बर द्वितीय शनिवार सुबह 10 बजे से राजीव गांधी शिक्षा मिशन के अंतर्गत संचालित आवासीय बालक छात्रावास क्रमांक 3, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर, पानी टंकी के सामने,  मोरेश्वर राव गद्रे वार्ड, मठपुरैना, रिंग रोड क्रमांक- एक, रायपुर में आयोजित किया है जिसमे बच्चों द्वारा कविता पाठ एवं  समसामयिक विषयों पर विचार व्यक्त किये जायेंगे| इस कार्यक्रम  में “कविता” गुरविन्दर, 2री, टिकेन्दर ढीढी, 3री, रूप किशोर, 4थीजल, “संरक्षण” गुरमीत,  4थी “मेरी पाठशाला” तिरदेव पाल, 5वीं, धनेश, 5वीं “पर्यावरण” निखिल डहरिया, 6वीं , आर्यन डोंगरे, 6वीं  “उर्जा संरक्षण” पियूष साहू,  4थी “मित्रता” घनश्याम धृतलहरे,  7वीं, दिलखुश कुर्रे,  7वीं “शिक्षा का महत्व” प्रताप बघेल,  8वीं , महेन्द्र विश्वकर्मा,  8वीं  “हिन्दी का इतिहास” रामेश्वर साहू, 8वीं “हमारा बालक छात्रावास” प्रकाश गिलहरे,  8वीं द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा| इसके पश्चात चरामेति फाउंडेशन द्वारा छात्रावास में रह रहे समस्त 100 बच्चों को कापियों के साथ पेन, पेन्सिल,  रबर,  शार्पनर एवं स्केल  का वितरण किया जाएगा।