Sunday, September 22, 2019
Home > featured > मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तो जन-जन के नायक बन चुके है : कांग्रेस

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तो जन-जन के नायक बन चुके है : कांग्रेस

०० अपने सांसद को तो नोटिस दे दिया किस-किस का मुंह बंद करेगी भाजपा

रायपुर। कांकेर सांसद मोहन मंडावी द्वारा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की तारीफ किये जाने पर भाजपा नेतृत्व के द्वारा मंडावी को नोटिस दिए जाने को कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी नेतृत्व की खीझ बताया है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा नेतृत्व किस-किस को नोटिस भेजेगा। आज पूरा छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके कार्य कौशल की तारीफ कर रहा है। भाजपा के वो कार्यकर्ता और नेता जो छत्तीसगढ़ से प्यार करते है उन्हें भी अब यह महसूस होने लगा है कि छत्तीसगढ़ का भविष्य और राज्य का विकास भूपेश बघेल के कुशल नेतृत्व में नई ऊंचाइयों को छू रहा है। राज्य बनने के 19 साल बाद पहली राज्य के लोगो को ऐसा लग रहा है कि उनकी सरकार का मुखिया उनका अपना है जो राज्य के उन्नति के साथ राज्य की संस्कृति के भी संरक्षण पर भी ध्यान दे रहे है। किसान खुश हैं उनकी फसल का पूरा दाम मिल रहा धान 2500 रु में खरीदा गया। किसानों का कर्ज माफ कर दिया गया।

युवाओं के लिए सरकारी नौकरी के द्वार खोल दिये गए। अनुसूचित जाति, जनजाती, पिछड़े वर्ग तथा सामान्य वर्ग सभी को अनुपातिक प्रतिनिधित्व देने के लिए संवैधानिक प्रावधान किए गए। राज्य के लोगो को पहली बार ऐसा लग रहा सरकार उनके लिए काम कर रही है हर आदमी को सरकार तक अपनी पहुच होने का अहसास हो रहा। पूर्ववर्ती सरकार द्वारा आम आदमी को परेशान करने की नीयत से बनाये गए जबरिया कानूनों में सुधार किया गया 5 डिसमिल तक जमीनों पर लगाई गई जबरिया रोक को हटा दिया गया। जमीनों के असंगत कलेक्टर गाइड लाइन की दर में 30 फीसदी की कमी की गई। 12वी तक बच्चों की शिक्षा मुफ्त की गई। महिलाओं और बच्चों को स्वस्थ करने कुपोषण के खिलाफ बड़ी लड़ाई भूपेश सरकार लड़ रही है। सरकार लोगो के काम मे अवरोध पैदा करने के लिए नियम नही बना रही लोगो के विकास के रास्ते खोज रही है। यह संवेदन शील प्रशासन एक जननायक ही दे सकता है। अवसर तो रमन सिंह को भी मिला था पूरे पन्द्रह साल तक। इन पन्द्रह सालो में वे अपने कुनबे और चंद चाटु कारो के हितों की रक्षा में लगे रहे। वे चाहते तो जनसेवा के इस अवसर का भूपेश बघेल के समान उपयोग करते रमन अपनी जन नायक की छवि नही बना पाए तो इसमें उनका अपना दोष है। आज यदि भाजपा के सांसद, विधायक और कार्यकर्ता मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को जन नायक बता रहे है तब रमन सिंह खीझने और बौखलाने के बजाय आत्म अवलोकन करें, जबाबदार सरकार तो नही चला पाए कम से कम जिम्मेदार विपक्ष का नेता तो बन जाये।