Wednesday, May 22, 2019
Home > featured > अमित शाह ने बिना अनुमति रोड शो कर अराजकता, हिंसा, उपद्रव को दिया बढ़ावा : कांग्रेस

अमित शाह ने बिना अनुमति रोड शो कर अराजकता, हिंसा, उपद्रव को दिया बढ़ावा : कांग्रेस

रायपुर। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आदर्श आचार संहिता का उल्लघंन करते हुये देश के कानून को हाथ में लेने का कार्य किया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर तिखा प्रहार करते हुये कहा कि, सत्ता के अहंकार में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का गैर कानूनी राजनैतिक रोड शो करना, हिंसा को बढ़ावा देने जैसा है। देश की कानून व्यवस्था सभी पर लागू होती है, चाहे व्यक्ति कितना भी उच्च पदो पर बैठा क्यों न हो, मगर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को सत्ता का अहंकार इतना है कि एक ओर लोकतंत्र की दुहाई देते है और वहीं दूसरी ओर देश में बने कानून का मजाक उड़ाते हुये सरकार के बिना अनुमति के रोड शो करते है, आदर्श आचार संहिता का उल्लघन करते है। यह अहंकार नहीं तो क्या है? कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को विभिन्न भाजपा शासित राज्यों में प्रशासन की अनुमति नहीं दिये जाने से राजनैतिक कार्यक्रमों को रद्द करना पड़ा है, क्योंकि कांग्रेस पार्टी देश के संविधान का सम्मान करना जानती है। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अपने तय चरित्रनुसार देश में आरजकता, हिंसा, धर्मजातियों में बंटवारा पैदा कर पुनः सत्ता पर काबिज होना चाहते है। देश के आम चुनाव में भाजपाई सांसद प्रत्याशी गुंडागर्दी, दंबगाई से लोकतंत्र की स्वच्छ विचारधारा को दबाकर डंडाराज कायम करने में अमादा है जो कि उत्तर प्रदेश, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र जैसे भाजपा शासित प्रदेशो में पिछले छः चरणों के मतदान में देखने को मिला है यह इसका सीधा प्रमाण है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक प्रकार से भाजपा पार्टी को अगवा कर लिया है, जहां इन दो व्यक्तियों के अलावा तीसरा व्यक्ति दिखाई नही पड़ता। जिन्होंने भाजपा की आधारशिला रखी जिनसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के राजनैतिक भविष्य को खतरा है, उन्हें या तो मार्गदर्शन कमेटी में या फिर वरिष्ठता का आधार मानकर एक किनारे कर दिया गया है।