Saturday, August 24, 2019
Home > featured > सत्ता जाने के बाद भी भाजपा नेताओं के व्यवहार में कोई परिवर्तन नही : कांग्रेस

सत्ता जाने के बाद भी भाजपा नेताओं के व्यवहार में कोई परिवर्तन नही : कांग्रेस

०० बदजूबानी से बचने भाजपा नेता करें योग : कांग्रेस

रायपुर। सोशल मीडिया फेसबुक ट्विटर युटुब सहित चुनावी सभाओं में भाजपा नेताओं के आपत्तिजनक व्यवहार बदजुबानी पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा को विधानसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पडा था अब लोकसभा चुनाव में भी भाजपा को विधानसभा वाली स्थिति साफ साफ नजर आ रही है। भाजपा के15 साल की सत्ता के दौरान जनता अराजकता दुर्व्यवहार अकर्मण्यता से व्यथित थी सत्ता जाने के बाद भी भाजपा नेताओं के व्यवहार में कोई परिवर्तन नही दिख रहा है। जनता के द्वारा लोकसभा चुनाव में भी नकारे जाने  के सन्देश से भाजपा के नेता मानसिक तनाव से जूझ रहे ऐसे में भाजपा के नेताओं को मानसिक शांति के लिए योग का सहारा लेना चाहिये काला पीला करने की सोच को त्याग कर अनुलोम विलोम करना चाहिए। योग से भाजपा नेताओं के दिमाग में बैठे नफरत घृणा दुर्भावना का कचरा साफ होगा और जबान भी सन्तुलित रहेगी बदजुबानी से भी निजात पाएंगे।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि निश्चित तौर पर सोशल मीडिया सरकार तक जन समस्याओं को पहुंचाने का एक सशक्त माध्यम है। लेकिन शब्दावली की मर्यादा का भी ध्यान रखना चाहिए लेकिन भाजपा के नेता कार्यकर्ता लगातार कांग्रेसी नेताओं के प्रति अनाप-शनाप आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं जो लोकतंत्र की शुचिता के विपरीत है लोकतंत्र में बात रखने का विरोध करने का अधिकार है। भाजपा के नेताओं ने राजनीति की शुचिता को खंडित करने का काम किया है भाजपा नेता आत्म चिंतन करें और अपने कार्यकर्ताओं को भी सद व्यवहार शालीनता की सीख दे।