Saturday, August 24, 2019
Home > मनोरंजन > अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन महिला प्रकोष्ठ ने किया भोलेनाथ का अभिषेक

अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन महिला प्रकोष्ठ ने किया भोलेनाथ का अभिषेक

मुंगेली| सावन के चौथे एवं अंतिम सोमवार पर शक्तिमाई स्थित शंकर मंदिर में भगवान भोलेनाथ को जल अर्पित कर पूजा अर्चना की गई। अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन महिला प्रकोष्ठ ने अभिषेक किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में प्रकोष्ठ के सदस्य उपस्थित रहे।

सावन माह के चौथे एवं अंतिम सोमवार पर अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन महिला प्रकोष्ठ मुंगेली द्वारा जल लेकर शक्तिमाई मंदिर में स्थापित शिवलींग में पूजा-अर्चना की गई। पूजा-अर्चना करने के बाद हर-हर महादेव, बोलबम का नारा है, बाबा तेरा ही सहारा है। जैसे नारे लगाते हुए शक्तिमाई मंदिर में स्थापित शिवलींग लगी भक्तों की भीड़ से श्रावण माह अपने आप खास बन जाता है। सावन के अंतिम सोमवार में महिला प्रकोष्ठ द्वारा पूजा-अर्चना कर जिले सहित प्रदेश के खुशहाली के लिए दुआ मांगी। ज्ञात हो कि अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन महिला प्रकोष्ठ मुंगेली द्वारा सावन के हर सोमवार पर अलग-अलग मंदिरो में एकत्रित होकर पूजा-अर्चना की। महिला प्रकोष्ठ द्वारा इन सभी सोमवार में अलग-अलग रंग के परिधान में नजर आये। सावन माह में भगवान शंकर की अराधना करने पर मनोवांछित फल मिलने की बात कही जाती है। सावन माह में  श्रद्धालुजन शिव मंदिर जाकर शिवलींग का अभिषेक करते है। जिसकी पावन मान्यता है कि ऐसा करने से श्रद्धालुओं को मुक्ति की प्राप्ति होती है तथा महादेव अपनी विशेष कृपा इन श्रद्धालुआेंं और उनके परिवारजनों पर बनाये रखते है। श्रावण मास के सोमवार को श्रद्धालुआें द्वारा व्रत किया जाता है तथा मंदिरों में विशेष प्रकार की पूजा का आयोजन किया जाता है। जिसमें शंकर भगवान को विशेष स्नान कराया जाता है। जिसमें उन्हें दूध, दही, शक्कर, शहद, घी और गंगा जल से अभिषेक किया जाता है। जिसे हम रूद्राभिषेक भी कहते है। वैसे तो शंकर भगवान को जल्दी प्रसन्न होने वाला देवता कहा जाता है किन्तु श्रावण मास उनका विशेष होता है। श्रद्धालु सावन किसी भी तारीख को आए मन को प्रफुल्लित करने वाला होता है। सावन में वैसे भी त्यौहारों की भी धूम रहती है। भगवान शिव व मां पार्वती की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष श्रीमति चंद्रकली पात्रे, प्रदेश मंत्री श्रीमति शीला श्रीवास, अध्यक्ष श्रीमति पूर्णिमा सोनी, उपाध्यक्ष श्रीमति वर्षा यादव, सचिव श्रीमति सोनल सोनी, संयोजक श्रीमति हेमलता सोनी, प्रचार मंत्री श्रीमति निशा सोनी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्रीमति पूर्णिमा सोनी, वरिष्ठ सचिव श्रीमति नम्रता ताम्रकार, मंत्री श्रीमति सोनिया यादव, मीडिया प्रभारी वैशाली ताम्रकार, श्रीमति ममता सोनी, श्रीमति प्रभा सोनी, श्रीमति ज्योति सोनी, श्रीमति रजनी सोनी एवं श्रीमति श्वेता सोनी आदि उपस्थित रहे।