नारियल परिवहन की आड़ में कर रहे थे गांजा तस्करी, तलाशी में मिला 32 लाख का गांजा, दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर/कांकेर| कोतवाली पुलिस ने नारियल परिवहन कर रहे ट्रक से 32.40 लाख का गांजा तस्करी करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। ट्रक में नारियल की बोरी में गांजा छुपाकर रखा गया 69 पैकेट गांजा बरामद कर लिया। आरोपियों के खिलाफ पुलिस मादक पदार्थ तस्करी मामले में अपराध दर्ज कर लिया। ट्रक की कीमत 10 लाख है।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली की जगदलपुर की तरफ से एक ट्रक में बड़ी मात्रा में गांजा भरकर नारियल की बोरियों में छुपाकर तस्करी की जा रही है। उक्त सूचना के आधार पर बरदेभाठा चौक पर पुलिस टीम वाहनों के चेकिंग अभियान में जुट गई। नगर के बरदेभाटा चौक पर ट्रक क्रमांक सीजी 04 एमडी 6011 पहुंचा तो पुलिस टीम ने उसे रोकने का ईशारा  किया तो चालक हड़बड़ा गया। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर ट्रक चालक और उसके सहयोगी को पकड़ लिया। ट्रक के अंदर जांच किया तो बाहर से बड़ी मात्रा में नारियल भरा हुआ था। काफी अंदर नारियल की बोरी में गांजा रखा गया था। बोरी खोलने पर कुल 69 पैकेट गांजा बरामद हो गया। तौल में तीन क्विंटल 24 किलो पाया गया। जिसकी कीमत पुलिस 32.40 लाख रुपए बता रही है। आरोपी विजय कुमार (25) और राजकुमार (32) पिता चौहान दोनों निवासी रायसेन मध्यप्रदेश को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों ने बताया कि वह जगलदपुर से मध्यप्रदेश के लिए ट्रक लेकर जा रहे थे। ट्रक में गांजा रखा गया था उन्हें जानकारी नहीं थी। पुलिस ने दोनों के खिलाफ अपराध दर्ज कर कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने गांजा तस्करी करने वाले जिस वाहन को पकड़ा उसमें बड़ी मात्रा में नारियल रखा गया था। बोरी में भरे नारियल को पुलिस जब बाहर निकालने के लिए तो एक-एक कर 69 पैकेट गांजा बरामद हुआ। बताया जा रहा कि इस नारियल के आड में इस तरह से काफी दिनों से गांजा की तस्करी में यह आरोपी लगे हुए थे।

error: Content is protected !!