राज्यसभा सांसद के पीएसओ ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, कोरोना संक्रमण की बताई वजह

०० रायपुर के सिविल लाइंस स्थित सिंचाई कॉलोनी के सरकारी आवास में पंखे से लटका मिला शव

रायपुर| राज्यसभा सांसद और प्रदेश की भाजपा सरकार में मंत्री रहे रामविचार नेताम के पर्सनल सिक्युरिटी ऑफिसर (पीएसओ) ने आत्महत्या कर ली। उनका शव गुरुवार शाम को रायपुर के सिविल लाइंस स्थित सिंचाई कॉलोनी के सरकारी आवास में पंखे से लटका मिला। पुलिस को मौके से एक पेज का सुसाइड नोट भी मिला है। इसमें कोरोना से डरकर आत्महत्या करने की बात कही गई है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। अब परिजना से इस बारे में पूछताछ की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, बिलाईगढ़ निवासी छत्रराम सायतोड़े प्लाटून कमांडर थे। वह 2001 से सांसद रामविचार नेताम के पास पीएसओ थे। यहां शांति नगर स्थित सिंचाई कॉलोनी के सरकारी मकान में परिवार के साथ रहते थे। लॉकडाउन में वे ड्यूटी भी नहीं जा रहे थे। उनकी पत्नी और बेटी तीन माह से रिश्तेदार के यहां भिलाई गए हैं। यहां वे अपने बेटे के साथ अकेले रह रहे थे। बेटा दोपहर में भोजन के बाद दोस्त के यहां कमल विहार चला गया। शाम 6 बजे वह आया तो देखा कि पिता कमरे में फंदे से लटके हुए हैं।पुलिस को मौके से जो सुसाइड नोट मिला है, उसमें मुख्यमंत्री को संबोधित कर लिखा गया है कि मेरे बेटे और पत्नी का भविष्य बना दीजिएगा। मुझे घर पहुंचा देना- यही निवेदन है। आगे सांसद नेताम को संबोधित करते हुए लिखा गया है कि कोरोना से डर गया हूं। मानसिक तनाव हो गया है। जब से घर में हूं, बोर हो गया हूं। लगातार मानसिक तनाव में रहता हूं। मेरा बेटा मेरे साथ में है। परेशानी मत होने देना।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *