पहले मजदूरों को मजबूर किया अब उनका अपमान कर रही है भाजपा  : कांग्रेस

रायपुर। खाने कमाने बाहर गये छत्तीसगढ़ के मजदूर भाइयों के लौटने पर कुछ के कोरोना संक्रमण का शिकार पाये जाने पर भाजपा की प्रतिक्रिया पर गहरा दुख व्यक्त करते हुये छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि पहले मजदूरों को मजबूर किया अब भाजपा उनका अपमान कर रही है। भाजपा नेताओं की यह टिप्पणियां भाजपा के गरीब विरोधी  मजदूर विरोधी छत्तीसगढ़ विरोधी रवैयें का जीता जागता सबूत है। अगर बाहर कमाने खाने गये हुये हमारे छत्तीसगढ़ के मजदूर कोरोना संक्रमण के कारण वापस आ रहे है और उनमें से कुछ लोग संक्रमित है तो इस अव्यवस्था कहकर भाजपा नेताओं ने सारी मानवीय संवेदनायें ताक पर रख दी है। ये मजदूर छत्तीसगढ़ महतारी के बेटे है।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा ने तो ऐसी बातें करके मजदूरो का अपमान करने की कोशिश न करें। कोरोना संक्रमण की परिस्थितियां के लिये भाजपा की केन्द्र सरकार जिम्मेदार है। केक्न्द्र सरकार के प्रबंधन ने ही आज की परिस्थिति को पैदा किया है। भाजपा की केन्द्र सरकार ने अंर्तराष्ट्रीय हवाई अड्डो में आने वालो की जांच नहीं करवायी संदिग्धों को क्वारेंटाईन नहीं किया। त्रिवेदी ने कहा है कि अब मजदूरो के घर गांव छत्तीसगढ़ वापस आने पर कोरोना के कुछ मामले सामने आ रहे है तो भाजपा नेता गरीब विरोधी,  मजदूर विरोधी बयान देकर स्तरहीन राजनीति कर रहे है। इस गरीब विरोधी, मजदूर विरोधी राजनीति को छत्तीसगढ़ के लोग सहन नहीं करेंगे। त्रिवेदी ने कहा है कि कोरोना एक संक्रामक बीमारी है और इस संक्रामक बीमारी के फैलाव को सबसे पहले रोका जाना था अंर्तराष्ट्रीय हवाई अड्डो में। जब विदेशो से लोग आ रहे थे, जब 30 जनवरी को कोरोना का पहला मामला सामने आया, फिर 24 फरवरी को गुजरात को लाखो लोगो को इकट्ठा कर के नमस्ते ट्रम्प कार्यक्रम कराया गया। मध्यप्रदेश में कांग्रेस के निर्वाचित सरकार को गिराते तक लाकडाउन को रोका गया। भाजपा की केन्द्र सरकार ही कोरोना संक्रमण की हालत बिगड़ने के लिये जिम्मेदार है। त्रिवेदी ने कहा है कि कोरोना का जो आपदा है वो किसी दल विशेष की, किसी सरकार विशेष की नहीं पूरे देश की समस्या है। इसमें केन्द्र सरकार को, राज्य सरकार को सत्ताधारी दल को विपक्षी दल को सामाजिक संगठनों को सबको भूमिका निभाने थी। छत्तीसगढ़ सरकार ने बहुत अच्छा काम किया है। छत्तीसगढ़ में हमने देश में सबसे पहले स्कूलो को बंद कर दिये है। हमने देश में सबसे पहले 144 लागू की और इसी कारण छत्तीसगढ़ में स्थिति नियंत्रित है। कुछ मरीजो की संख्या बाहर से प्रवासी मजदूर वापस आ रहे तो बढ़ रही है। लेकिन भारतीय जनता पार्टी इस पूरे परिदृश्य से नदारद है। विपदा में मद्द करने के बजाय भाजपा केवल राजनीति कर रही है, गलतियां निकालने वाले बयान दे रही है लेकिन इससे समस्या के हल तो में नहीं होगा। भाजपा के सांसदो ने छत्तीसगढ़ सरकार को सीएम रिलीफ फंड में एक पैसा तक नहीं दिया जबकि छत्तीसगढ़ के मजदूरों को सीएम रिलीफ फंड से ही मद्द दी जा रही है। त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के मजदूर बड़ी संख्या में कमाने खाने बाहर के प्रदेशो में जाते है। बहुत बड़ी संख्या है और कोरोना के बाद जिस तरीके से ट्रेन बंद की गयी भाजपा की केन्द्र सरकार द्वारा सारे मजदूर वहां फस के रह गये और जहां वे फंसे थे उनके पास न रोजी रोटी थी, न खाने को था। अब वे मजदूर लौट के आ रहे है, पैदल आ रहे है, भूखे प्यासे आ रहे है, अब इन मजदूरों को छत्तीसगढ़ की सरकार द्वारा बसे लगाकर घर, गांव पहुंचाया जा रहा है। जिन मजदूरो को क्वारेंटाईन करने की आवश्यकता है उनको क्वारेंटाईन भी किया जा रहा है। भाजपा द्वारा क्वारेंटाईन सेंटरों में गलतियां निकालने पर प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि भाजपा बताये भाजपा शासित राज्यों में क्वारेंटाईन सेंटर की क्या स्थिति है, क्या हालात है? पूरे देश की रिपोर्ट की सूचनायें बायोलाॅजी के इस युग में मिलती है। भाजपा शासित राज्यों में मजदूरों की हालात बहुत खराब है। भाजपा शासित राज्यों में क्वारेंटाईन सेंटरों की हालत बहुत खराब है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मजदूरो की सारी चिंता का काम कांग्रेस की सरकार ने भूपेश बघेल की सरकार ने किया है। छत्तीसगढ़ में पूरे संवेदना साथ कांग्रेस सरकार उनका ध्यान रखने का काम कर रही है। भाजपा इसमें गलती निकाले तो उसे याद रखना चाहिए कि जब एक उंगली किसी की तरफ उठाते है तो चार उंगली आप की ओर तो उठती ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *