कुम्भकरण जैसे सो रही भाजपा नेत्रियां इसलिये पूर्ववर्ती रमन सरकार के इतिहास के बारे में जानकारी नहीं : वंदना राजपूत

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि भाजपा महिला मोर्चा शायद गहरी निंद्रा में सोई हुई थी । इसलिए उसे पूर्ववती रमन सरकार के बारे में संक्षिप्त जानकारी दे दे।  पूर्व  मुख्यमंत्री रमन सिंह ने 17 जून 2011 को सार्वजनिक घोषणा की थी कि भारतीय जनता पार्टी का  सरकार राज्य में शराब बंदी लागू करने की मानसिकता बना ली है अब शराब बंदी में भी  छत्तीसगढ़ पूरे देश के लिये आदर्श राज्य और नशाबंदी का छत्तीसगढ़  मॉडल रहेगा। बिहार के चुनाव रैली में छत्तीसगढ़ के मुख्य मंत्री डॉ रमन सिंह ने एक बड़ा ऐलान किया कि वे  अपने राज्य में पूर्ण रूप से शराबी बंदी लागू करेंगे। परन्तु रमन सिंह ने अपने राज्य में शराब बंदी लागू नहीं किया।  जो सीधे तौर पर कथनी अौर करनी में अंतर को दर्शाता है। उस समय भाजपा नेत्रियां गूंगी थी क्या?

प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की  सरकार ने बहुत ही अल्प समय में ऐतिहासिक फैसला लिए. राज्य में शराब बंदी के संबंध में भी कांग्रेस सरकार के द्वारा अल्प अवधी में भी उल्लेखनीय कदम उठाये गये है। तथा उक्त को को चरण बद्ध तरीके से पूर्ण करने हेतु एक कार्ययोजना के तहत कार्य किया जा रहा है। अपनी मंशा और इरादे को स्पष्ट करते हुए सरकार द्वारा अल्प समय में 50 मंदिरा दुकानों को बंद करने का  निर्णय लेते हुए उसका क्रियान्वयन किया गया। प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि रसोई गैस,पेट्रोल डीजल के दामों में बेताहाशा वृद्धि होती जा रही है । मोदी सरकार के गलत नीति के कारण महंगाई डायन बन कर लोगों को खा रही है ।इस पर भाजपा नेत्रियां किचन से लेकर सड़क तक की लड़ाई क्यों नहीं लड़ते। यदि इन लोगों को महिलाओं के हित की चिंता  है तो पूर्ववर्ती भाजपा के  रमन सरकार से सवाल पूछे कि भाजपा के लगातार 15 साल तक राज्य में भाजपा के शासन रहने के बावजूद आपने पूर्ण शराब बंदी क्यों नही किये? केंद्र में भाजपा सरकार के आने से  महंगाई एवं बेरोजगारी में इतना अधिक वृद्धि क्यों ? क्या ये महिलाओं के अहित में नहिं है इस पर भाजपा नेत्रियां ध्यान क्यों नहीं देती।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *