राजधानी में लगेगा युवाओं का महाकुंभ, खेल मंत्री श्री उमेश पटेल ने लिया तैयारी का जायजा

०० राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का आगाज 12 जनवरी को

रायपुर| राजधानी रायपुर में युवाओं का महाकुंभ लगेगा। राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में छत्तीसगढ़ की संस्कृति की छटा बिखरेगी। इस आयोजन में छत्तीसगढ़ की पारम्परिक नृत्यखेललोकगीतचित्रकलाक्विजछत्तीसगढ़ी व्यंजनोफैशन प्रतियोगिता सहित विभिन्न आयोजन होंगे। लगभग एकड़ में फैले विशाल साइंस कॉलेज मैदान में स्वामी विवेकानंद की जयंती पर राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। 12 से 14 जनवरी तक चलने वाले इस महोत्सव का शुभारंभ राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके करेंगी। शुभारंभ समारोह दोपहर 12 बजे होगा। समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत सहित मंत्रिमंडल के सदस्य शामिल होंगे । 
खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री उमेश पटेल के मार्गदर्शन में साईंस कॉलेज मैदान में राज्य स्तरीय युवा महोत्सव की तैयारी युद्ध स्तर पर जारी है। आज उन्होंने तैयारियों का जायजा लिया और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। युवा महोत्सव की प्रतियोगिताएं साईंस कॉलेज मैदान के अलावा पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम, विज्ञान महाविद्यालय ऑडिटोरियम, पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय का प्रेक्षागृह एवं खेल मैदान में आयोजित होगी। साइंस कॉलेज मैदान में बनाए गए मुख्य मंच में 4000 से अधिक दर्शक इस महोत्सवका आनंद ले सकेंगे। मुख्य मंच लगभग 18000 वर्ग फीट में बनाया गया है। मुख्य मंच के पीछे ग्रीन रूम बनाया गया है। इसके समीप ही एक मंच मुक्ताकाशी मंच और एक अन्य मंच तैयार किया गया है। जहां लोक नृत्यों की प्रतियोगिता होगी। मुक्ताकाशी मंच में राउत नाचाबस्तरिया नाचभौंरा और फुगडी प्रतियोगिता होगी। 
क्विज और चित्रकला प्रतियोगिता :- युवा महोत्सव में युवाओं के लिए क्विज प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी। यह प्रतियोगिता खेल संचालनालय के ऊपरी मंजिल में स्थित हाल में आयोजित होगी। इसमें यहां आने वाले युवा इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेगें।युवा महोत्सव में चित्रकला में रुचि रखने वाले युवाओं के लिए चित्रकला प्रतियोगिता प्रतियोगिता भी आयोजित की जा रही चित्रकला की प्रतियोगिता 12 जनवरी को खेल संचालनालय के ऊपरी मंजिल में होगी। इस प्रतियोगिता में 32 युवा भाग ले रहे है। चित्रकला प्रतियोगिता छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति पर आधारित होगी।

छत्तीसगढ़ी फैशन प्रतियोगिता :- छत्तीसगढ़ की कला संस्कृति पर आधारित पारंपरिक परिधानों की फैशन प्रतियोगिता का भी आयोजन होगा। इस प्रतियोगिता में युवा छत्तीसगढ़ के पारंपरिक वेशभूषा में अपनी प्रस्तुति देंगे। युवाओं के लिए वाद विवाद प्रतियोगिता का भी आयोजन इस दौरान किया जाएगा। तात्कालिक भाषण की प्रतियोगिता 13 जनवरी को पंडित दीनदयाल ऑडिटोरियम में आयोजित की जाएंगी। इस प्रतियोगिता में 29 प्रतिभागी शामिल होंगे।

छत्तीसगढ़ी व्यंजनों पर फूड फेस्टिवल :- महोत्सव में खेल परिसर के डोम में छत्तीसगढ़ी व्यंजनों पर आधारित फूड फेस्टिवल का आयोजन किया जाएगा। इसमें छत्तीसगढ़ी फराचीलाठेठरीखुर्मीबड़ाभजियासोहारीअरसा सहित अन्य व्यंजनों की प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। 
पारम्परिक खेल :- युवा महोत्सव के दौरान पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय के खेल परिसर में छत्तीसगढ़ के पारम्परिक खेलों का आयोजन किया जाएगा। खो-खोकब्बड्डी प्रतियोगिता में महिला और पुरुष वर्ग में सभी 27 जिलों के युवा भाग लेंगे।  खो-खो में 65, कबड्डी में 67, गेड़ी दौड़ में 23 टीम भाग लेगी। ये प्रतियोगिताएं 12 और 13 जनवरी को होगी।।
शास्त्रीय संगीत और नृत्य :- महोत्सव में शास्त्रीय नृत्य और संगीत की प्रतियोगिता पंडित दीनदयाल ओडिटोरियम में किया जाएगा। महोत्सव के दौरान मणिपुरी ऑडिसी भरतनाट्यम कथक कुचिपुड़ी नृत्य की प्रस्तुति भी युवाओं द्वारा दी जाएगी इसमें 52 प्रतिभागी शामिल होंगे । शास्त्री गायन की प्रतियोगिताएं 12 जनवरी को दोपहर बजेे से रात्रि बजे तक पंडित दीनदयाल ऑडिटोरियम में होंगी। 13 जनवरी को यह प्रतियोगिता सुबह बजे से रात्रि बजे तक होगी। 
विकास प्रदर्शनी  :- आयोजन स्थल पर प्रदेश में हुए विकास कार्यों की एक प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। कवर्धा जिले के सुप्रसिद्ध भोरमदेव मंदिर की प्रतिकृति भी बनाई जा रही है। प्रदर्शनी स्थल पर जनसंपर्क विभाग द्वारा छायाचित्र प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इस प्रदर्शनी में राज्य में गठित नई सरकार द्वारा पिछले साल में हुए विभिन्न कार्यों को चित्रों के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा । इसके अलावा संस्कृति और पर्यटन विभाग द्वारा राज्य के पर्यटन एवं पुरातात्विक स्थलों के संबंध में प्रदर्शनी भी लगायी जाएगी। 
कौशल विकास और रोजगार मार्गदर्शन:-  प्रदर्शनी स्थल पर युवाओं के रोजगार संबंधी मार्गदर्शन के लिए रोजगार कार्यालय द्वारा विशेष स्टॉल बनाया जाएगा। यहां युवाओं को उनकी शैक्षणिक योग्यता के अनुरूप शासकीय एवं निजी संस्थानों में रोजगार प्राप्त करने के लिए मार्गदर्शन भी दिया जाएगा। इसके अलावा कौशल विकास प्राधिकरण द्वारा युवाओं के कौशल उन्नयन के लिए मार्गदर्शन की व्यवस्था रहेगी। 
प्रतिभागियों के लिए 195 बसों की व्यवस्था :- युवा महोत्सव में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आने वाले प्रतिभागियों के लिए साईंस कॉलेज मैदान आने एवं जाने के लिए 195 बसों की व्यवस्था की गई है। संबंधित जिले के नोडल अधिकारी युवाओं को निर्धारित स्थान में लाने और वापस ले जाने की व्यवस्था करेंगे। प्रत्येक दो जिलों के लिए राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को नोडल बनाया गया है और प्रत्येक जिलों के दलों के लिए डीएसपी रैंक के अधिकारियों को सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई है। प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए। 7000 से अधिक प्रतिभागियों के भोजन की व्यवस्था के लिए तीन विशाल डोम बनाए गए है प्रत्येक डोम में एक साथ 2000 लोगों की खाने की व्यवस्था रहेगी खाने में युवाओं को लजीज व्यंजन सहित छत्तीसगढ़ी व्यंजन परोसा जाएगा। 
सुरक्षा के लिए लगभग 3000 जवान तैनात :- महोत्सव के दौरान कानून व्यवस्था और सुरक्षा के लिए 3000 से अधिक जवान तैनात रहेंगे। यह जवान ना सिर्फ सुरक्षा का कार्य करेंगे बल्कि प्रदेश के विभिन्न जिलों से आने वाले कलाकारों का भी आत्मीय स्वागत करेंगे जिससे पुलिस की एक बेहतर छवि बन सके। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव के दौरान भी पुलिस जवानों ने देश-विदेश से आए कलाकारों का स्वागत और उनकी सुविधाओं का ख्याल रखकर एक बेहतर उदाहरण प्रस्तुत किया था।
 मीडिया सेंटर और पुलिस सहायता केन्द्र  :- आयोजन स्थल पर मुख्य मंच के बगल में मीडिया सेंटर भी बनाया गया है जिससे मीडिया कर्मी और मीडिया से जुड़े शासकीय विभागों के अधिकारी सूचनाओं का आदान-प्रदान आसानी से कर सकेगें। मीडिया सेंटर में कंप्यूटर इंटरनेट की सुविधा भी रहेगी मीडिया सेंटर के बगल में ही पुलिस सहायता केंद्र बनाया गया है। इसी के नजदीक ही आपात चिकित्सा केंद्र होगा जहां चिकित्सकों का दल तैनात रहेगा। युवा महोत्सव के आयोजन के दौरान सभी व्यवस्थाएं सुचारू रूप से संचालित करने के लिए कंट्रोल रूम भी यहां मनाया गया है।
12 जनवरी को होंगे विभिन्न कार्यक्रम :- 12 जनवरी को खेल संचालनालय परिसर के मुख्य मंच में करमा नाचद्वितीय मंच में लोक नृत्य तथा ओपन मंच में राउत नाचा का आयोजन होगा। खेल संचालनालय के ऊपर के हॉल में दोहपर बजे शाम बजे तक निबंध और चित्रकला प्रतियोगिता होगी। पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में दोपहर बजे से शाम 6.30 बजे तक लोकगीत (1500 सीटर हॉल में)शास्त्रीय हिन्दुस्तानी और कर्नाटक संगीत (100 सीटर हॉल में)गिटार और सितार वादन (60 सीटर हॉल में) की प्रतियोगिताएं हांेगी। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय प्रेक्षागृह में दोपहर बजे से रात्रि बजे तक एकांकी नाटक और विज्ञान महाविद्यालय ऑडिटोरियम में दोपहर बजे से रात्रि बजे तक तबला वादन की प्रतियोगिता होगी। विश्वविद्यालय खेल प्रतियोगिता परिसर के खुले मैदान में दोहपर बजे से निरंतर खेल खो-खो (महिला एवं पुरूष)कबड्डी (महिला) का आयोजन होगा।

error: Content is protected !!