मुख्यमंत्री ने छेरछेरा पर कई घरों में जाकर लिया अन्नदान, फूलों की वर्षा और तिलक लगाकर हुआ स्वागत

रायपुर| छत्तीसगढ़ी की कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था में आज का दिन विशेष महत्व का है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में यह पर्व आज बड़े उत्साह से मनाया गया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने भी इस पर्व पर राजधानी रायपुर के मठपारा में दुधाधारी मठ के आसपास कई घरों में जाकर छेर छेरा पुन्नी का दान लिया।
मुख्यमंत्री ने घरों के सामने ‘छेर छेरा, माई कोठी के धान ला हेर हेरा‘ की आवाज लगाई। लोगों ने बड़े उत्साह और आत्मीयत से मुख्यमंत्री का स्वागत किया। घर की महिलाओं ने मुख्यमंत्री पर फूलों की वर्षा की और तिलक लगाया। महिलाओं ने सूपा और टोकरी में मुख्यमंत्री को धान, साग-भाजी, फल-फूल और लड्डू की भेंट दी। बुजुर्ग महिलाओं ने श्री बघेल को अपना आशीर्वाद प्रदान किया। श्री बघेल ने विनम्रता से सभी को धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री लोक नर्तक दलों के साथ दान लेने निकले थे। इस अवसर पर दूधाधारी मठ के महंत राजेश्री रामसुंदर दासकृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबेआदिम जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकामनगरीय विकास मंत्री डॉ. शिव डहेरियामहिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़ियासांसद श्रीमती छाया वर्माविधायक श्री धनेन्द्र साहूश्री कुलदीप जुनेजा और श्री विकास उपाध्यायमहापौर श्री एजाज ढेबर भी उनके साथ थे।

error: Content is protected !!