छत्तीसगढ़ में पिछले एक वर्ष में नक्सल घटनाओं में आयी 40 प्रतिशत की कमी

रायपुर| छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में जनकल्याणकारी योजनाओं के सफल क्रियान्वयन, पुलिस और जिला प्रशासन के बीच बेहतर समन्वय और प्रशासनिक कसावट से नक्सल घटनाओं में वर्ष 2018 की तुलना में वर्ष 2019 में 40 प्रतिशत की कमी आयी है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के सूत्र वाक्य ’’विश्वास-विकास-सुरक्षा’’ के अनुरूप गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू के कुशल नेतृत्व में छत्तीसगढ़ पुलिस को नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में यह महत्वपूर्ण सफलता हासिल हुई है।

पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों ने बताया कि इस अवधि में नक्सल घटनाओं में कमी के साथ ही सुरक्षाबलों की शहादत में 62 प्रतिशत और आम नागरिकों की हत्याओं में 48 प्रतिशत की कमी आयी है। अधिकारियों ने बताया कि विगत एक वर्ष में 48 नक्सली लीडर मारे गए, इन नक्सली नेताओं के ऊपर एक करोड़ 92 लाख रूपए का ईनाम रखा गया था। इस दौरान 131 नक्सली लीडर गिरफ्तार किए गए, जिन पर दो करोड़ 88 लाख रूपए का ईनाम था। इसी तरह 126 नक्सली लीडर आत्मसमर्पित किए। इन नेताओं पर दो करोड़ 85 लाख रूपए का ईनाम था। अधिकारियों ने बताया कि पिछले एक वर्ष में नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में कुल 161 हथियार बरामद किए गए, इनमें एके-47, जी-3 रायफल, इंसास रायफल, एसएलआर रायफल, 303 रायफल, 9 एमएम कार्बाइन एवं पिस्टल शामिल हैं।

 

error: Content is protected !!